एशिया के 50 बेहतरीन शिक्षण संस्थानों में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (आइआइएससी) को शीर्षस्थ भारतीय संस्थान के तौर पर शामिल किया गया है। क्यूएस की ओर से इस साल के लिए जारी रैंकिंग में नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर पहले और यूनिवर्सिटी ऑफ हांगकांग दूसरे स्थान पर है।

क्यूएस की ओर से हर साल एशिया के बेहतरीन शिक्षण संस्थानों की रैंकिंग जारी की जाती है। रैंकिंग के मुताबिक आइआइएससी (33वें स्थान) के बाद भारतीय शिक्षण संस्थानों में आइआइटी मुंबई (35वां स्थान), आइआइटी दिल्ली (36वां स्थान), आइआइटी मद्रास (43वां स्थान) और आइआइटी कानपुर (48वां स्थान) शीर्ष पचास में शामिल हैं।

इसके अलावा आइटआइटी खड़गपुर (51), रुड़की (78) और गुवाहाटी (94) सौ बेहतरीन शिक्षण संस्थानों में शामिल हैं। इस सूची में दिल्ली विश्वविद्यालय 66वें स्थान पर है। डीयू की रैंकिंग में 25 पायदान का सुधार हुआ है। कलकत्ता विवि 108वें, मुंबई विवि 145वें, बीएचयू 155वें स्थान पर है।

आइआइएसी को मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से तैयार राष्ट्रीय शिक्षण संस्थानों की सूची में पहला स्थान मिला था।क्यूएस की ताजा सूची में 350 शैक्षणिक संस्थानों को शामिल किया गया है। कुल 920 संस्थानों का मूल्यांकन किया गया था। रैंकिंग की सूची में भारत के 23 संस्थानों को जगह मिली है।

चीन के सबसे ज्यादा 82 शिक्षण संस्थान इसमें शामिल हैं। जापान के 72, दक्षिण कोरिया के 54 और ताइवान के 34 संस्थानों को जगह मिली है। शीर्ष दस विश्वविद्यालयों में भी इन्हीं देशों का बोलबाला है।

Advertisements